पंजाब में कलेक्टर दरें ऑनलाइन कैसे देखें? Collector Rates in Punjab 2024 (Circle Rate, DLC Rate, Guideline Rate)

By | November 27, 2023
Collector Rates in Punjab 2024

Collector Rates in Punjab:- क्या आप पंजाब के रहने वाले है और आप यहां पर जमीन खरीदने का  विचार कर रहे है तो उसके लिए आप जिस क्षेत्र में जनीन खरीद रहे है उसके जमीन का कलेक्टर रेट (Collector Rate) की जानकारी होना काफी आवश्यक है। क्योंकि जमीन कलेक्टर रेट की जानकारी होने से की रजिस्ट्री के दौरान होने वाले खर्च की जानकारी आप पहले से पता कर सकते हैं। पंजाब के राजस्व विभाग के द्वारा अचल संपत्ति जैसे:-आवासीय, कृषि योग्य भूमि, व्यावसायिक भूखंड इत्यादि खरीदे जाने पर न्यूनतम दर निर्धारित की गई है, जिसे हम लोग पंजाब कलेक्टर रेट (Punjab Collector Rate) के नाम से जानते हैं। कलेक्टर रेट का मतलब होता है सरकारी रेट अर्थात इस सरकारी रेट को अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है जैसे- Circle Rate, DLC Rate, Guideline Rate, इत्यादि।

पंजाब राज्य के निवासी अपने राज्य के किसी भी क्षेत्र के जमीन कलेक्टर रेट की जानकारी ऑनलाइन माध्यम से घर बैठे आसानी पूर्वक देख सकते हैं।पंजाब राजस्व विभाग एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा पंजाब के किसी भी क्षेत्र का जमीन का कलेक्टर रेट ( Collector Rate ) की जानकारी देखने के लिए एक ऑफिशल वेबसाइट लॉन्च की गई है । यदि हम लोगों को इस ऑफिशल वेबसाइट पर अपनी जमीन का कलेक्टर रेट (Collector Rate Punjab) देखने की प्रक्रिया की जानकारी विस्तार पूर्वक चाहिए तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना पड़ेगा।

Punjab Collector Rate क्या है?

Punjab Collector Rate Kya Hai: राज्य के किसी भी क्षेत्र के अचल संपत्ति को खरीदने से पहले उस क्षेत्र की संपत्ति का सरकारी रेट अर्थात कलेक्टर रेट की जानकारी होना काफी आवश्यक है। यदि आप उस क्षेत्र के संपत्ति के कलेक्टर रेट की जानकारी रखेंगे तो उस संपत्ति की रजिस्ट्री के दौरान होने वाले खर्चों का आकलन सही से कर पाएंगे। क्योंकि पंजाब के किसी भी क्षेत्र के जमीन का कलेक्टर रेट (Collector Rate) एक समान नहीं होता है। क्योंकि किसी भी क्षेत्र के संपत्ति के कलेक्टर रेट को कई प्रकार के कारक प्रभावित करते हैं। अर्थात राजस्व विभाग एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा इन सभी कारक को ध्यान में रखते हुए उस क्षेत्र के जमीन का कलेक्टर रेट निर्धारित किया जाता है। यदि हम लोगों को किसी क्षेत्र के संपत्ति के कलेक्टर रेट को प्रभावित करने वाले कारक की जानकारी विस्तार पूर्वक चाहिए तो इस आर्टिकल में हमने उसकी जानकारी भी उपलब्ध कराई हैं।

यह भी पढ़ें:-पंजाब रजिस्ट्री (भूमि रिकॉर्ड) ऑनलाइन डाउनलोड करें?

पंजाब कलेक्टर रेट (Punjab Collector Rate) को निर्धारित करने वाले कारक क्या है?

राज्य के किसी भी जमीन के कलेक्टर रेट को निर्धारित करते समय कुछ कारकों को ध्यान में रखा जाता है। इनमें से कुछ कारक निम्नलिखित है:-

  • संपत्ति का स्थान:- यदि कोई संपत्ति ऐसे स्थान पर है जहां पर सभी प्रकार की सुख सुविधा उपलब्ध है जैसे संपत्ति क्षेत्र के आसपास गवर्नमेंट ऑफिस,  शॉपिंग मॉल ,हॉस्पिटल अच्छी सड़क, इत्यादि उपलब्ध होने से संपत्ति का स्थान विकसित हो चुका है। तो इस क्षेत्र के संपत्ति का बाजार मूल्य अधिक होगा और इसी बाजार मूल्य पर कलेक्टर रेट निर्धारित किया जाता है।
  • संपत्ति का आयु:- अगर कोई संपत्ति अधिक पुरानी है अर्थात संपत्ति की आयु अधिक हो चुकी है। तो उस संपत्ति की कीमत भी अधिक होगी और इसी कीमत पर कलेक्टर रेट निर्धारित किया जाता है।
  • संपत्ति के आसपास सुख सुविधा:– यदि कोई संपत्ति ऐसे क्षेत्र में है जहां पर सभी प्रकार की सुख सुविधा उपलब्ध है, जैसे अच्छी यातायात के साधन, हॉस्पिटल, मार्केट, सरकारी ऑफिस, स्कूल कॉलेज, इत्यादि उपलब्ध होने से उस संपत्ति की कीमत अधिक होगी। इसी अधिक कीमत पर संपत्ति का कलेक्टर रेट निर्धारित किया जाता है।
  • संपत्ति के प्रकार:- पंजाब राज्य के कलेक्टर रेट को संपत्ति का प्रकार भी प्रभावित करता है। यदि संपत्ति का प्रकार कमर्शियल है तो आवासीय कलेक्टर रेट की तुलना में अधिक होगा।

यह भी पढ़ें:-पंजाब फर्द जमाबंदी ऑनलाइन कैसे निकाले?

Punjab Collector Rate को कैसे निर्धारित किया जाता है?

पंजाब राज्य के राजस्व विभाग एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा किसी क्षेत्र के जमीन का कलेक्टर रेट कुछ कारकों के मद्देनजर निर्धारित किया जाता है। पंजाब कलेक्टर रेट को इस प्रकार निर्धारित किया जाता है जो निम्न है:-

संपत्ति का मूल्य= पंजाब कलेक्टर रेट× संपत्ति का निर्माता क्षेत्र( वर्ग मीटर में) सूत्र के द्वारा निर्धारित किया जाता है हम लोग इसे उदाहरण स्वरूप देख सकते हैं:-

हम लोग मान लेते हैं कि पंजाब के किस क्षेत्र का कलेक्टर रेट =5000 रुपया प्रति  वर्ग मीटर है।

निर्मित क्षेत्र =1500 वर्ग मीटर

संपत्ति का मूल्य= कलेक्टर रेट× निर्मित क्षेत्र (5000×1500)

तो इस प्रकार संपत्ति का मूल्य 75,00,000 रुपया है।

Note- एक बात का आपको ध्यान रखना होगा कि स्टांप ड्यूटी शुल्क जो सरकार को राजस्व के रूप में दिया जाता है, वह संपत्ति के बाजार मूल्य एवं कलेक्टर रेट इन दोनों में से जो अधिक होगा उस राशि पर देना होगा।

यह भी पढ़ें:- पंजाब भूलेख नक्शा कैसे चेक करे? 

Punjab Collector Rate कैसे पता करें?

पंजाब कलेक्टर रेट को पता करने के लिए आपको पंजाब राज्य के राजस्व विभाग एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा, उसके बाद निम्न प्रक्रियाओं को फॉलो करना होगा:-

  • सबसे पहले आपको पंजाब राज्य के राजस्व विभाग एवं पुनर्वास और आपदा प्रबंधन के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद इस आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा इस पेज पर रजिस्ट्रेशन ऑप्शन के  मैन्यू ऑप्शन में Collector Rate के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद स्क्रीन पर राज्य के समस्त जिलों का लिस्ट दिखाई देगा, जिसमें आपको अपने जिले को सिलेक्ट करना होगा।
  • जैसे ही आपको अपने जिले को सेलेक्ट करते हैं तो उसे जिले के ऑफिशल वेबसाइट रीडायरेक्ट करने हेतु आपसे परमिशन मांगी जाएगी, जिसको परमिशन देते हुए  जिले की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा ।
  • इस वेबसाइट के मेनू बार के ऑप्शन में डिपार्मेंट के रिवेन्यू के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद हम लोगों के सामने वित्तीय वर्ष के अनुसार रिवेन्यू लिस्ट दिखाई देगा।
  • पंजाब के निवासी यहां से अपनी जमीन का कलेक्टर रेट की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
  • ऊपर दिए गए प्रक्रियाओं के द्वारा हम लोग पंजाब राज्य के किसी भी क्षेत्र के जमीन का कलेक्टर रेट की जानकारी आसानी पूर्वक घर बैठे पता कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- बीघा क्या होता है? 1 एकड़ में कितना बीघा होता है?

पंजाब के समस्त जिलों की लिस्ट जिनका कलेक्टर रेट ऑनलाइन पता कर सकते हैं:-

Amritsar (अमृतसर)Barnala (बरनाला)
Fatehgarh Sahib (फतेहगढ़ साहिब)Ferozepur (फिरोजपुर)
Bathinda (भटिण्डा)Faridkot (फरीदकोट)
Hoshiarpur (होशियारपुर)Kapurthala (कपूरथला)
Gurdaspur (गुरदासपुर)Fazilka (फाजिल्का)
Moga (मोगा)Mansa (मानसा)
Jalandhar (जालंधर)Ludhiana (लुधियाना)
Patiala (पटियाला)Sri Muktsar Sahib (श्री मुक्तसर साहिब)
Sangrur (संगरूर)S.Ans.S Nagar (एस.ए.एस नगर)
Pathankot (पठानकोट)Rupnagar (रूपनगर)
Shahid Bhagat Singh Nagar (शहीद भगत सिंह नगर)Taran Taran (तरन तारन)

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं कि हम लोगों के द्वारा लिखा गया आर्टिकल  पंजाब में कलेक्टर रेट ऑनलाइन कैसे देखें संबंधित जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान की गई है। आशा करते है कि यह लेख आप लोगों को काफी पसंद आया होगा। ऐसे में आप हमारे आर्टिकल संबंधित कोई प्रश्न आपके मन में है तो आप लोग हमारे कमेंट बॉक्स में आकर अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं, हम आपके सभी प्रश्नों का जवाब जरूर देंगे।

FAQ’s: Collector Rates in Punjab 2024

Q.पंजाब कलेक्टर रेट ऑनलाइन देखने का ऑफिशियल वेबसाइट क्या है?

Ans.पंजाब कलेक्टर रेट ऑनलाइन देखने का ऑफिशियल वेबसाइट  https://revenue.punjab.gov.in/ है।

Q.पंजाब कलेक्टर रेट निर्धारित करने वाले कारक क्या है?

Ans.पंजाब कलेक्टर रेट को निर्धारित करने वाले ऐसे तो कई कारक होते हैं लेकिन इनमें से कुछ कारक निम्नलिखित है:-

  • संपत्ति का स्थान
  • संपत्ति का आयु
  • संपत्ति का प्रकार
  • संपत्ति के आसपास के सुविधा

Q. पंजाब कलेक्टर रेट को निर्धारित करने वाले सूत्र क्या है?

Ans.पंजाब कलेक्टर रेट निर्धारित करने वाला सूत्र निम्नलिखित है:-

संपत्ति का मूल्य= पंजाब कलेक्टर रेट× संपत्ति का निर्माता क्षेत्र (वर्ग मीटर में)

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easybhulekh.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *